बिना तलाक के गैर मर्द के साथ रहने वाली महिला को सुरक्षा दी जाये या नहीं ? जानिए पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने क्या कहा?

0
Chandigarh news, punjab haryana high court, live in relationship, illicit relations, चंडीगढ़ समाचार, Chandigarh News in Hindi, Latest Chandigarh News in Hindi, Chandigarh Hindi Samachar
Punjab Haryana High Court

पंजाब-हरियाणा उच्च न्यायालय ने प्रेमी जोड़े की सुरक्षा की याचिका खारिज करते हुए बिना पति से तलाक लिए गैर पुरुष महिला के साथ सहमति से संबंध बनाए। हाई कोर्ट ने कहा कि ऐसा रिश्ता अपवित्र होता है, ऐसे में इसके लिए सुरक्षा नहीं दी जा सकती.

जींद निवासी प्रेमी जोड़े ने सुरक्षा की मांग को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। प्रेमी जोड़े ने बताया कि महिला की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ जुलाई 2018 में हुई थी। इस शादी से उसे एक बच्चा भी हुआ था। महिला ने बताया कि उसका पति उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करता था। इससे तंग आकर उसने अपने पति और ससुराल वालों को छोड़ अपने प्रेमी के साथ सहमति से रिश्ते में रहना शुरू कर दिया।

उसके बाद से उसका पति व ससुराल वाले उसे जान से मारने की लगातार धमकी दे रहे हैं। याचिकाकर्ताओं ने सुरक्षा की मांग को लेकर जींद एसपी को मांग पत्र भी सौंपा था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई. हाईकोर्ट ने सीधे तौर पर याचिकाकर्ता पक्ष की दलीलों से असहमति जताई।

उच्च न्यायालय ने माना कि महिला का अपने पति से कानूनी रूप से तलाक नहीं हुआ था। ऐसे में प्रेमी के साथ सहमति से संबंध बनाना एक अशुद्ध संबंध है। हाईकोर्ट ने कहा कि कोर्ट के सामने ऐसा कोई कारण नहीं है जो दंपत्ति को दिया जाए जिसके आधार पर सुरक्षा दी जाए। इन टिप्पणियों के साथ हाईकोर्ट ने प्रेमी जोड़े की सुरक्षा से जुड़ी याचिका खारिज कर दी।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here