AAP सरकार का एक्शन, सुंदर शाम तीसरे पूर्व मंत्री और पहले BJP नेता, जो किए गए हैं गिरफ्तार

AAP government's action, Sundar Sham, third former minister and first BJP leader, who have been arrested

0

आम आदमी पार्टी की सरकार में गिरफ्तार सुंदर शाम अरोड़ा, साधू सिंह धर्मसोत और भारत भूषण आशु के बाद गिरफ्तार होने वाले तीसरे पूर्व मंत्री व कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने वाले पहले नेता हैं।

सूत्र बताते हैं कि कई और पूर्व मंत्री भी विजिलेंस के निशाने पर हैं। गौर हो कि सुंदर शाम अरोड़ा पूर्व मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी रहे हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कुछ समय पहले अपनी पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस का भाजपा में विलय कर दिया था।

वहीं, अरोड़ा इससे पहले ही भाजपा में शामिल हो गए थे। आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में वन मंत्री साधू सिंह धर्मसोत को विजिलेंस ने वन घोटाले में गिरफ्तार किया था।

उन्हें काफी मशक्कत के बाद पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से जमानत मिली है। पूर्व मंत्री भारत भूषण आशु को भी पिछले दिनों विजिलेंस की टीम ने उस वक्त गिरफ्तार किया जब वह सैलून में बाल कटवा रहे थे।

भगवंत मान सरकार के निशाने पर कांग्रेस के एक और पूर्व मंत्री संगत सिंह गिलजियां भी हैं। उनके खिलाफ जंगलात घोटाले में मामला दर्ज किया गया है। गिलजियां की गिरफ्तारी के लिए विजिलेंस उनकी तलाश में जुटी है।

गिलजियां लंबे समय से भूमिगत हैं और विजिलेंस के हत्थे नहीं चढ़ पा रहे हैं। इसके अलावा पूर्व स्पीकर राणा केपी सिंह भी विजिलेंस के निशाने पर हैं। वह भी भाजपा में शामिल होने दिल्ली गए थे लेकिन उन्हें पार्टी ने लेने से इनकार कर दिया था।

बाहर से करते थे दिखावा, अंदर से डरे थे
पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा दो बार विजिलेंस के पास बयान दर्ज करवाने पहुंचे। इस दौरान वह हर बार दिखावा करते थे कि वह काफी मजबूत हैं। मीडिया के सवालों के जवाब भी देते थे लेकिन अंदर से उन्हें विजिलेंस की जांच का डर सता रहा था।

जब पिछली बार उनसे पूछताछ हुई तो उनसे विजिलेंस ने उन पर इंडस्ट्री घोटाले के आरोपों के बारे में ही जानकारी ली। इसके बाद वह काफी उखड़ गए थे। इसके बाद ही उन्होंने विजिलेंस को रिश्वत देने का प्लान बनाया।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here