मंड को अब ई-मेल के जरिए मिली धमकी, पुलिस ने किया नजरबंद

0

World wide City Live, लुधियाना : अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (किसान कांग्रेस) के राष्ट्रीय समन्वयक गुरसिमरन सिंह मंड को जिला पुलिस ने नजरबंद कर दिया है। बता दें मंड को लगातार गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के नाम से फोन काल पर धमकियां मिल रही है। मंड ने इन धमकियों के बारे पुलिस प्रशासन को बता दिया है। धमकियां मिलने के उपरांत मंड के उसके घर में पुलिस ने नजरबंद कर दिया है। देर रात मंड को E-mail आई है। जिसमें लिखा है कि मंड तुम गलत बोलने से बाज नहीं आ रहे। तेरे साथ भी प्रदीप की तरह करना पड़ेगा। हम तुझे माफ नहीं करेंगे। तू हमारे सिक्ख धर्म का आरोपी है। एक बात मेरी याद रखना की तुझे जरूर मारेगे। यह हमारा तुझे चेलेंज है। हम उस हर व्यक्ति को ठोकेगे जो हमारे श्री गुरू ग्रंथ साहिब के बारे गलत बोलता। मंड अब तू भी तैयार रह अगला नंबर तेरा है।

मंडल के घर के बाहर भी सुरक्षा प्रबंध पुख्ता किए गए है। समय-समय पर अधिकारी औचक चैकिंग भी कर रहे है। वहीं मंड से भी अब पुलिस सख्त हो रही है। मंड से भी कहा गया कि बेवजह से सोशल मीडिया का इस्तेमाल न करेे। पुलिस प्रशासन लगातार लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहा है। लोगों से पुलिस लगातार अपील कर रही है कि सोशल मीडिया पर कोई गलत बयानबाजी न करे जिससे किसी धर्म या किसी समुदाय की भावना को ठेस पहुंचे। बता दें दो दिन पहले गुरसिमरन सिंह मंड का पुलिस लाइन में मुंशी के साथ पंगा पड़ गया था।

मंड के मुताबिक पुलिस लाइन से सुरक्षा कर्मचारियों की डयूटी लगाने वाले मुंशी ने उनकी सिक्योरिटी में भिंडरांवाला का समर्थक कर्मचारी भेज दिया। मंड ने कहा था कि मुंशी मुझे मरवाना चाहता है। मंड को इस बात का आभास तब हुआ जब उसने उस पुलिस कर्मचारी की बाइक पर जरनैल सिंह भिंडरांवाले की तस्वीर चिपकी देखी। इस मामले में पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा ने सख्त एक्शन लिया था और सुरक्षा में फेरबदल कर दिया था। मंड ने कट्टरपंथियों के खिलाफ आवाज उठाई है।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here