पंजाब सरकार ने डॉ. अवनीश को सौंपा बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के VC का एडिशनल चार्ज

Punjab Government handed over additional charge of VC of Baba Farid University to Dr. Avneesh

0

पंजाब सरकार ने बाबा फरीद यूनिवर्सिटी में वीसी का एडिशनल चार्ज अब डॉक्टर अवनीश कुमार को सौंप दिया है। यह फैसला बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज के कुलपति के रूप में डॉ राज बहादुर के इस्तीफे के बाद लिया गया।

सरकार की ओर से कहा गया है कि, अब निदेशक चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान डॉक्टर अवनीश कुमार को संस्थान का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. नियमित नियुक्ति होने तक वह वीसी का कामकाज संभालेंगे।

मालूम हो कि, जुलाई में वीसी डॉ राज बहादुर को एक औचक निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री चेतन जोड़ा माजरा ने अस्पताल के गंदे गद्दे पर लेटने के लिए मजबूर कर दिया था। विपक्षी दलों और डॉक्‍टरों की यूनियन ने इस घटना के लिए स्वास्थ्य मंत्री की निंदा की थी.

इस घटना के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने काफी विरोध किया था और स्वास्थ्य मंत्री से माफी मांगने की मांग की थी. विपक्ष में बैठी कांग्रेस ने इस मामले पर काफी बवाल किया था. कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग भी डॉ राज बहादुर को मिलने फरीदकोट पहुंचे थे.

इस घटना के बाद हालांकि स्वास्थ्य मंत्री ने उनसे सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगी थी. तो घटना के एक दिन बाद डॉ राज बहादुर ने कुलपति के पद से इस्तीफा दे दिया था.

फिर मुख्यमंत्री भगवंत मान ने डॉ राज बहादुर से बात की थी और घटना पर खेद व्यक्त किया था. बताया जा रहा है कि, मान ने डॉ बहादुर को पद छोड़ने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा था. हालांकि डॉक्टर राज बहादुर ने कहा कि जिस तरह से उसे अपमानित किया गया, उसके बाद उसे आगे बढ़ाना मुश्किल था.

इसके बाद पंजाब सरकार ने कुलपति के पद से डॉ राज बहादुर का इस्तीफा स्वीकार कर लिया था और अंतिम मंजूरी के लिए राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित के पास भेज दिया था.

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here