पंजाब में 13 अक्टूबर तक होगी 3 घंटे की बिजली कटौती

0

पंजाब में बिजली आपूर्ति की स्थिति गंभीर बनी हुई है और राज्य के स्वामित्व वाली पीएसपीसीएल ने रविवार को कहा कि राज्य में 13 अक्टूबर तक रोजाना तीन घंटे तक बिजली कटौती की जाएगी. इस बीच, शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने वर्तमान बिजली संकट के लिए पंजाब की कांग्रेस नीत सरकार की आलोचना की और आरोप लगाया कि यह पूरी तरह ‘‘मानव निर्मित’’ संकट है और सरकार की ओर से ‘‘अग्रिम योजना एवं तैयारियों के अभाव एवं घोर लापरवाही’’ का नतीजा है.

दरअसल कोयले की गंभीर कमी ने पंजाब राज्य विद्युत निगम लिमिटेड को बिजली उत्पादन में कटौती करने और बिजली की कटौती करने के लिए मजबूर होना पड़ा. अधिकारियों ने कहा कि कोयले के भंडार में कमी के कारण, कोयले से चलने वाले बिजली संयंत्र अपनी उत्पादन क्षमता के 50 प्रतिशत से भी कम पर काम कर रहे हैं. अधिकारियों ने रविवार को कहा कि निजी बिजली तापीय संयंत्रों के पास डेढ़ दिन तक और राज्य के स्वामित्व वाली इकाइयों के पास चार दिनों तक कोयले का भंडार है.

पीएसपीसीएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक ए वेणुप्रसाद ने कहा कि राज्य भर में स्थित सभी कोयला आधारित संयंत्रों को कोयले की भारी कमी का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि पड़ोसी राज्यों दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान के साथ-साथ भारत के अन्य हिस्सों में भी ऐसी ही स्थिति बनी हुई है. वेणुप्रसाद ने कहा कि पीएसपीसीएल कृषि क्षेत्र सहित उपभोक्ताओं की मांग को पूरा करने के लिए बाजार से अत्यधिक दरों पर भी बिजली खरीद रही है.

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here