पंजाब: कैदी का आरोप- जेल अधीक्षक ने पीटा, पीठ पर लिखा आतंकवादी, जांच के आदेश

0
Pic- Twitter Manjinder Singh Sirsa @mssirsa
Pic- Twitter Manjinder Singh Sirsa @mssirsa

पंजाब (Punjab) के बरनाला जिले (Barnala) में एक विचाराधीन कैदी (Undertrial Prisoner) ने जेल अधीक्षक पर अत्याचार करने और उसकी पीठ पर पंजाबी भाषा में ‘आतंकवादी’ (Terrorist) लिखने का आरोप लगाया है. उसके इस आरोप के बाद राज्‍य के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा (Sukhjinder Singh Randhawa) ने दावे की गहन जांच के आदेश दिए हैं.

28 साल के करमजीत सिंह नाम के कैदी ने मनसा जिले की एक अदालत के सामने यह आरोप लगाया. कोर्ट में उस दौरान एनडीपीएस (नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट) के तहत दायर एक मामले की सुनवाई हो रही थी.

कैदी ने दावा किया, ‘कैदियों की स्थिति दयनीय है. एड्स और हेपेटाइटिस से पीड़ित लोगों को अलग वार्ड में नहीं रखा जाता है. जब भी मैंने दुर्व्यवहार के मुद्दे को उठाने की कोशिश की तो जेल अधीक्षक ने मुझे पीटा.’ वहीं जेल अधीक्षक बलबीर सिंह ने सभी आरोपों से इनकार किया है. उन्‍होंने करमजीत सिंह को बार बार ऐसी कहानियां बनाने वाले कैदी के रूप में बताया है. उनका कहना है कि उसकी ऐसी मनगढ़ंत कहानी बनाने की आदत है.

जेल अधीक्षक ने कहा, ‘उस पर एनडीपीएस एक्ट से लेकर हत्या तक 11 मामलों में मुकदमे चल रहे हैं. अब वह ये आरोप लगा रहा है, क्योंकि वह हमसे नाराज हैं. यहां तक ​​कि जब वह संगरूर जिले में बंद था तब भी ऐसा करता था.’ अधीक्षक ने आगे दावा किया कि करमजीत सिंह एक बार पुलिस हिरासत से भाग भी गया था. वहीं इस मामले में उपमुख्यमंत्री रंधावा ने एडीजीपी (जेल) पीके सिन्हा को गहराई से जांच करने और कैदी की मेडिकल जांच करने का आदेश दिया है. फिरोजपुर के डीआईजी तजिंदर सिंह मौर को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है. वह आज से पूछताछ शुरू करेंगे.

इस मामले में अकाली दल के प्रवक्‍ता मनजिंदर सिंह सिरसा ने राज्‍य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कैदी की फोटो भी शेयर की है. उन्‍होंने मांग की है कि जेल अधीक्षक को तुरंत सस्‍पेंड किया जाए और मानवाधिकार उल्‍लंघन पर कड़ी कार्रवाई की जाए.

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here