क्या चांदी दूर करती है नपुंसकता, आइए जानें हिंदू धर्म में चांदी के बारे में क्या बताया गया है?

0
Silver
Silver

हिंदू धर्म में चांदी को शुद्ध और प्रभावी धातु के रूप में वर्णित किया गया है। ऐसा माना जाता है कि चांदी की उत्पत्ति भगवान शंकर के नेत्रों से हुई थी। इसलिए चांदी का उपयोग न केवल आभूषण के लिए बल्कि ग्रह दोष दूर करने, दांपत्य जीवन में सुधार, संतान सुख प्राप्त करने और दिमाग को तेज रखने के लिए भी किया जाता है।

चांदी धारण करने से व्यक्ति के शरीर में मौजूद जल तत्व का संतुलन बना रहता है और उसके शरीर का तापमान भी नियंत्रित रहता है। इससे चंद्रमा और शुक्र का अनुकूल प्रभाव प्राप्त होता है और ग्रह के विघ्नों का नाश होता है।

गले में चांदी की चेन पहनने के फायदे

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चांदी की चेन गले में धारण करने से हार्मोंस संबंधी समस्या समाप्त हो जाती है। यह व्यक्ति को रोमांटिक बनाता है, जिससे दांपत्य जीवन भी काफी बेहतर हो जाता है। हालांकि जिन लोगों को अक्सर सर्दी-जुकाम की शिकायत रहती है उन्हें गले की जगह चांदी की चेन हाथ में पहननी चाहिए, नहीं तो परेशानी बढ़ सकती है।

संतान सुख में आ रही बाधाएं दूर होंगी

लाल किताब में यह भी बताया गया है कि यदि शुक्र के कमजोर होने से संतान सुख नहीं मिल रहा है तो चांदी आपकी समस्या का समाधान कर सकती है। चांदी के तार को गर्म करके ठंडे दूध में डाल दें और तार को ठंडा होने दें। फिर उस दूध को पी लें। इस नियम को 40 दिनों तक करने से शुक्र बलवान बनता है और संतान सुख में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं।

दिमाग तेज करने के लिए करें ये उपाय

चांदी का कोई भी आभूषण पहनने से न सिर्फ आपका चंद्रमा मजबूत होगा, बल्कि आपका दिमाग भी संतुलित रहेगा। आप बेवजह की चिंताओं से दूर रहेंगे, जिससे आपका मन किसी भी कार्य में बहुत तेजी से काम करेगा।

रोमांटिक जीवन के लिए चांदी के बर्तनों का प्रयोग

जीवन को रोमांटिक बनाने के लिए चांदी के बर्तन में खाना खाने की सलाह दी जाती है। हालांकि, हर किसी के लिए ऐसा करना संभव नहीं है। इसलिए आप किसी भी एक चम्मच, गिलास आदि का उपयोग कर सकते हैं। चांदी के बर्तन हमेशा बैक्टीरिया मुक्त होते हैं। इसलिए ऐसे बर्तन में खाना खाने से आपकी सेहत भी अच्छी रहती है।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here