हरभजन सिंह ने संसद में अफगानिस्तान और सिखों पर कुछ ऐसा कहा कि, सभापति ने की तारीफ

0

मशहूर क्रिकेटर रहे और अब राजनेता बने हरभजन सिंह ने संसद में अफगानिस्तान और सिखों पर कुछ ऐसा कहा कि उनकी तारीफ राज्यसभा के सभापति ने भी कर दी।

हरभजन सिंह ने राज्यसभा में अफगानिस्तान में सिखों और गुरुद्वारों पर हमले का मुद्दा उठाया। हरभजन सिंह ने कहा अफगानिस्तान में सिखों पर हमले हो रहे हैं। यह ऐसा मुद्दा है जिससे सिखों की भावनाएं आहत हो रही हैं।

‘अफगानिस्तान में सिखों की पहचान पर हमला’

दरअसल, पंजाब से आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने अफगानी सिखों की सुरक्षा का मुद्दा उठाया। बुधवार को राज्यसभा में हरभजन सिंह बोलते नजर आए।

हरभजन सिंह हाथ जोड़कर खड़े हुए और अपनी बात रखी। हरभजन ने कहा कि अफगानिस्तान में सिखों और गुरूद्वारों पर हमले से सिखों की भावनाएं आहत हो रही हैं। यह सिखों की पहचान पर हमला हो रहा है। क्यों हमें निशाना बनाया जा रहा है।

‘सिख समुदाय के लोग सेवा के लिए सबसे आगे रहते हैं’

उन्होंने इस दौरान सिखों के सामाजिक कार्यों का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान गुरुद्वारों ने सिर्फ भोजन ही नहीं बल्कि ऑक्सीजन तक उपलब्ध कराई। हर मुश्किल वक्त में सिख समुदाय के लोग सेवा के लिए सबसे आगे रहते हैं, फिर हमें निशाना क्यों बनाया जा रहा है। सिख समुदाय भारत और अन्य देशों के बीच संबंधों की एक मजबूत कड़ी रहा है।

‘क्यों हमें ही निशाना बनाया जा रहा है’

इसके आगे हरभजन सिंह ने कहा कि ये एक ऐसा मुद्दा है जिसने दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाले सिख की भावना को आहत किया है। यह एक सिख होने की पहचान पर हमला है। इस तरह के हमले हमें कई सवाल करने पर मजबूर कर देते हैं कि यह हमले हमारे ऊपर ही क्यों होते हैं। क्यों हमें ही निशाना बनाया जा रहा है।

‘राज्यसभा के सभापति ने तारीफ की’

हरभजन ने अपनी बात जैसे ही खत्म की तो इसके बाद राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने भी उनकी तारीफ की। इस पर सांसदों ने तालियां बजाईं। इतना ही नहीं इसके बाद सभापति ने देश के विदेश मंत्री का जिक्र करते हुए उन्हें इस मामले पर ध्यान देने के लिए भी कहा। हरभजन सिंह ने संसद में दिए अपने भाषण का वीडियो अपने इंस्टाग्राम पर भी पोस्ट किया है।

 

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here