शहर में दौड़ रही बसों में प्रेशर हार्न व प्राईवेट वाहनों में लगे है पुलिस हूटर , पढ़े पूरी खबर

0

World wide City Live, जालंधर : बसों व प्राईवेट वाहनों में प्रेशर हार्न व वी.वी.आई.पी हूटर का उपयोग प्रतिबंधित होने के बावजूद शहरकी सड़कों पर धड़ल्ले से चार पहिया तथा दो पहिया चालक इसका उपयोग कर रहे हैं। वाहन एजेंसी द्वारा वाहन बेचते वक्त सामान्यहार्न लगा होता है। लेकिन ख़रीद के बाद काफी लोग अपने वाहनों में तेज आवाज करने वाले प्रेशर हार्न लगवा रहे हैं। युवक बाइक मेंमौज मस्ती के चलते प्रेशर हार्न लगवा लेते हैं। जिससे आम नागरिकों को परेशानी आ रही है।

शहर में कई ऐसे शासकीय कार्यालयों, चिकित्सालयों, न्यायालय व विद्यालयों के पास साइलेंस जोन घोषित किया गया है। जहां तेजध्वनि वाले हार्न का प्रयोग नहीं किया जा सकता। लेकिन नियम कायदों को ताक पर रखकर वाहन चालक प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रेशर हार्नबजाकर शासन को चुनौती देते हैं। कुछ शरारती बिगड़ैल किस्म के युवक इन प्रतिबंधित क्षेत्रों के आसपास से प्रेशर हार्न व हूटर बजाकरतेज गति में निकल जाते हैं। जिससे वहां से गुजरने वाले और स्थानीय लोगों को काफी परेशानी होती है। क्योंकि ये अपने वाहन में लगेप्रेशर हार्न का इतना उपयोग करते हैं कि जब तक उनके वाहन गुजर नहीं जाते तब तक कुछ सुनाई ही नहीं पड़ता।

नहीं हो रहे प्रेशर हॉर्न के चालान

बसों में या दूसरे वाहनों में प्रेशर हार्न लगाने व बजाने पर 10 हजार रुपये तक जुर्माने का प्रविधान है। नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहतट्रैफिक पुलिस द्वारा किसी भी बस या दूसरे वाहन का प्रेशर हार्न का चालान नहीं किया गया है।

बसों से हटाए जाएं प्रेशर हार्न

पंजाब केसरी से बातचीत दौरान मिशन 6213 पंजाब प्रधान एम.पी सिंह केमिस्ट्री गुरु ने बताया कि शहर के बीच प्रेशर हार्न बजाने सेसुनने की क्षमता प्रभावित होती है। हमारा कान 30 से 50 डेसिबल तक सुनने की क्षमता रखता है। इससे अधिक क्षमता के हार्न सीधे-सीधे हमारे दिमाग व कान को प्रभावित कर रहे हैं। इससे लोग तमाम बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। इसे पूर्ण तौर पर बंद किया जानाचाहिए । सड़क पैदल चल रहे बुजुर्ग, साइकिल सवारों को प्रेशर हार्न की वजह से तेज आवाज के कारण सीधे दिल का अटैक आ है।प्रोफ़ेसर एम .पी सिंह ने बताया कि पुलिस कमिश्नर को इस तरफ़ ध्यान देना चाहिए जिस से लोगों को इस समस्या से निजात मिल सके। प्रोफ़ेसर ने बताया की वह काफ़ी समय से नोयज पलूशन पर काम कर रहे है उन्होंने बताया कि पुलिस की तरफ़ से बहुत वोईलेशन होरही है उन्होंने बताया की 30 अप्रैल को डी.जी.पी पंजाब ने यह ऑर्डर निकाला था कि हूटर पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया था उन्होंने ने कहाकी पुलिसकर्मियों की प्राईवेट गाड़ियों पर हूटर लगे हुए है । एम पी सिंह ने बताया कि पुलिस कमिश्नर को एक टोल फ़्री नंबर जारीकरना चाहिए जिस से गुप्त तरीक़े से इस नंबर पर काल करके प्रेशर होरन व हूटर मारण वाली गाड़ी की कम्प्लेंट की जा सके जिस सेइस समस्या का हल निकल सके ।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here