वड़िंग बोले- सरकार यहीं घर बनाने के लिए विधानसभा में बिल लाए, पढ़े पूरी ख़बर

0

World wide City Live, जालंधर (आँचल) : पंजाब के जालंधर के लतीफपुरा में घरों को तोड़ दिए जाने के बाद लोगों से सहानुभूति जताने के लिए सत्ताधारी दल आम आदमी पार्टी को छोड़ कर सभी राजनीतिक दलों के नेताओं का आना-जाना लगा हुआ है। रात को कांग्रेस पार्टी के प्रधान अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग भी लतीफपुरा पहुंचे।

उन्होंने कहा कि सरकार ने विभाजन के बाद आकर यहां बसे लोगों के घरों को गिराकर उन पर कहर ढहाया है। सरकार चाहे तो क्या नहीं कर सकती। कोर्ट का ऑर्डर यह नहीं है कि अब ही आया है। यह तो कई साल पहले आया था, लेकिन पिछली सरकारों ने भी लतीफपुरा के लोगों को डिस्टर्ब नहीं किया।

70 सालों से रहे लोगों को उजाड़ दिया
मौजूदा अनुभवहीन सरकार ने 70 सालों से यहां रह रहे लोगों को दोबारा उजाड़ दिया। उन्होंने कहा कि सरकार इन्हें यहीं पर बसाने के लिए विधानसभा में बिल लेकर आए वह पूरा साथ देंगे।

लतीफपुरा में मकान गिरा दिए जाने के बाद पक्का मोर्चा लगाकर बैठे लोगों के बीच बैठकर अमरिंदर सिंह राजा वंड़िंग ने कहा कि लतीफपुरा में ही दोबारा पक्के तौर पर घर बनाने के लिए हर तरीके की लड़ाई लड़ने पड़ेगी। इसमें वह लोगों के साथ हैं। उन्होंने कहा कि टेक्निकल तरीके से कानूनी लड़ाई भी लड़ी जानी चाहिए और इसके लिए एक कमेटी का गठन किया जाए। यदि आप सभी चाहते हैं तो वह अपने स्तर पर आपके साथ बैठकर इसका गठन कर देंगे। इसमें वह पूरी मदद करेंगे।

लतीफपुरा में पहुंचे पंजाब कांग्रेस प्रधान को लोगों ने अपनी सारी समस्याएं बताईं। लोगों ने कहा कि कुछ ऐसे घर भी तोड़ दिए गए हैं जिनकी बाकायदा रजिस्ट्री हुई हैं और माल रिकॉर्ड में इंतकाल दर्ज हैं। उन्होंने कहा वह तब तक यहां से नहीं हटेंगे जब तक अपनी लड़ाई जीत नहीं जाते। राजा वड़िंग ने कहा कि वह उनकी लड़ाई में तन-मन-धन हर प्रकार से उनके साथ हैं। यदि वह चाहेंगे तो रातें भी वह यहीं पर उनके साथ गुजारेंगे।

सारे टैक्स लिए, बिजली-पानी के मीटर लगे हैं फिर मकान कैसे गिरा दिए

राजा वड़िंग ने कहा कि लोगों ने पूरे टैक्स भरे हैं। घरों में बिजली-पानी के मीटर लगे हैं तो फिर इन बुलडोजर कैसे चला दिया। उन्होंने कहा कि यदि घर गैर कानूनी थे तो फिर इनसे टैक्स लेने वाले, बिजली-पानी के मीटर लगाने वालों और इनके आधार कार्ड से लेकर अन्य दस्तावेज बनाने वालों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वह टेक्निकल तरीके से सरकारी की घेराबंदी करेंगे।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here