वंदे भारत को बेहतर बनाने में जुटा रेल मंत्रालय

0

World wide city live : भारत सरकार और रेलवे का इस समय सबसे ड्रीम प्रोजेक्ट है वंदे भारत ट्रेन। देश के प्रधानमंत्री ने खुद पूरे देश भर में भारत की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत चलाने को लेकर घोषणा की थी। जिसके बाद से लगातार रेल मंत्रालय वंदे भारत ट्रेन को पटरी पर उतारकर उसे और भी बेहतर बनाने की कोशिश में जुटा हुआ है। अभी तक पूरे भारत में 6 बंदे भारत ट्रेन पटरी पर उतर चुकी हैं और आम जनता इनका लाभ उठा रही है।

रेल मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक और वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। यह ट्रेन कोलकाता के हावड़ा स्टेशन से जलपाईगुड़ी के लिए रवाना की जाएगी। जिसके लिए रेलवे विभाग तैयारियों में जुट गया है। वहीं इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने छठी वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर 11 दिसंबर 2022 को रवाना किया था। यह ट्रेन नागपुर से बिलासपुर तक चल रही है। प्रधानमंत्री ने इसे नागपुर रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था, जहां पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी मौजूद थे।

रेल मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, नई वंदे भारत ट्रेन का 115 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से लेकर 180 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार तक का परीक्षण जारी है। इस तेज गति से चला कर इसके कंपन का परीक्षण किया जा रहा है। साथ ही साथ 160 किलोमीटर प्रति घंटा पर आपातकालीन ब्रेकिंग दूरी और ब्रेक प्रणाली की भी जांच हो रही है। नई वंदे भारत में आग लगने, धुंआ निकलने, उसके शोर और वाइब्रेशन की भी जांच उच्च स्तर पर की जा रही है। इसके साथ-साथ मुख्य रेल संरक्षा आयुक्त (सीसीआरएस) के द्वारा भी इस नए वर्जन को 180 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चला कर देखा जा रहा है।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here