Honey Trap: पाकिस्तानी युवती Whatsapp ग्रुपों में, मांग रही otp

0
Whatsapp
Whatsapp

Honey Trap: भारत से जुड़ी खुफिया जानकारियां इकट्ठी करने के लिए पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेस इंटेलीजेंस (आइएसआइ) अब भारतीय वाट्सएप नंबरों का भी इस्तेमाल कर रही है। ऐसे ही एक मामले में पाकिस्तानी युवती ने लुधियाना के मलौद के गांव ऊंची दौद के जसविंदर सिंह को हनी ट्रैप में फंसाकर ओटीपी मंगवाकर उसके मोबाइल नंबर से खुद वाट्सएप आपरेट करना शुरू कर दिया। इसकी मदद से उसने सैन्य वाट्सएप ग्रुपों में सेंध लगा दी। वह कई नंबर आपरेट कर रही थी। समय रहते भारतीय वायुसेना को इसकी भनक लग गई। जोधपुर एयरफोर्स इंटेलीजेंस की सूचना के बाद लुधियाना पुलिस ने जसविंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

खुद को बठिंडा की जसलीन बराड़ बताती थी पाकिस्तानी आपरेटर

पाकिस्तानी इंटेलीजेंस आपरेटर ने खुद को बठिंडा की रहने वाली जसलीन बराड़ बताकर फेसबुक पर जसविंदर से दोस्ती की और फिर उसे प्रेम जाल में फंसा लिया। इसके बाद सेना में भर्ती और शादी का झांसा देकर उसने अपने मोबाइल पर जसविंदर सिंह का वाट्सएप उससे ओटीपी मंगवाकर एक्टिव करवा लिया। उसने जसविंदर की मदद से 3 अन्य भारतीय मोबाइल नंबरों के वाट्सएप ओटीपी मांगकर अपने मोबाइल पर एक्टिव करवा लिए। इस नंबर के जरिये वह डिफेंस के वाट्सएप ग्रुपों शामिल हो गई। वह सैन्य वाट्सएप ग्रुपों में होने वाली बातचीत की निगरानी कर रही थी। उसने वाट्सएप ग्रुपों में बातचीत के दौरान सेना के 7 अधिकारियों को भी अपना सोर्स बनाने के लिए हनी ट्रैप में फंसाने की कोशिश की। एसीपी पवनजीत ने बताया कि युवक जसविंदर मालेरकोटला में एक फैक्ट्री में काम करता है। पाकिस्तानी युवती सैन्य कर्मियों के वाट्सएप ग्रुप में कैसे शामिल हुई, इसकी जांच चल रही है।

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here