RBI गवर्नर ने बताया टिकाऊ आर्थिक वृद्धि का फार्मूला, FY2022 के लिए 9.5% जीडीपी ग्रोथ के अनुमान पर कायम

0

नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस महामारी की तगड़ी मार झेलने के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) के सभी इंडिकेटर्स इकोनॉमिक रिकवरी के मजबूत होने का इशारा कर रहे हैं. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने ये जानकारी देने के साथ ही टिकाऊ आर्थिक वृद्धि (Sustainable Economic Growth) हासिल करने का फार्मूला भी बताया. उन्‍होंने कहा कि आर्थिक वृद्धि के टिकाऊ होने के लिए निजी पूंजी निवेश (Private Investment) में बढ़ोतरी जरूरी है.

पिछले वृद्धि अनुमान पर बरकरार है आरबीआई
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना महामारी के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था तेज रफ्तार से बढ़ने में सक्षम है. हालांकि, इसके लिए निजी पूंजी का निवेश बढ़ना बेहद जरूरी है. कई इकोनॉमिस्‍ट ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वृद्धि दर (Economic Growth) के अनुमान को घटाकर 8.5-10 फीसदी के बीच कर दिया है. वहीं, रिजर्व बैंक अब भी 9.5 फीसदी की वृद्धि दर के अपने अनुमान पर टिका हुआ है. दास ने कहा कि निवेश का माहौल सुधरने पर बैंकों को भी निवेश के लिए तैयार रहना होगा.

‘दूसरी तिमाही में कम हुआ है बैंकों का एनपीए’
केंद्रीय बैंक ने वित्त वर्ष 2022-23 से निवेश चक्र में तेजी आने की उम्मीद जताई है. वर्ष 2013 से ही देश की अर्थव्यवस्था में निजी पूंजी की आवक कम रही है. कई जानकारों का मानना है कि अगले वित्त वर्ष के मध्य से निजी निवेश में फिर से तेजी आ सकती है. दास ने बैंकों के बहीखातों (Ledgers) के बेहतर होने का जिक्र करते हुए कहा कि बैंकों का सकल फंसा कर्ज (NPA) जुलाई-सितंबर 2021 तिमाही में पहली तिमाही के मुकाबले कम हुआ है.

‘स्‍टार्टअप के जरिये देश में आए अरबों डॉलर’
शक्तिकांत दास ने बैंकों से अपनी पूंजी प्रबंधन प्रक्रिया को बेहतर करने को भी कहा. आरबीआई गवर्नर ने प्रौद्योगिकी क्षेत्र (Technology Sector) के उद्यमियों की सराहना करते हुए कहा कि स्टार्टअप परिदृश्य (Statr-Up Outlook) में भारत का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. इसके जरिये भारत में अरबों डॉलर की विदेशी पूंजी आई है. बता दें कि ग्‍लोबल रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्‍स (Fitch Rating) ने भी वित्‍त वर्ष 2021-22 के लिए अपने पिछले वृद्धि अनुमान 8.7 फीसदी को बरकरार रखा है. साथ ही वित्‍त वर्ष 2023 के लिए 10 फीसदी जीडीपी ग्रोथ का अनुमान जताया है.

.

Source link

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here