FY22 में बेहतर रेवेन्यू की उम्मीद, सरकार ने लगाया है 22 लाख करोड़ टैक्स कलेक्शन का अनुमान

0

नई दिल्ली. केंद्र सरकार चालू वित्त वर्ष 2021-22 में टैक्स कलेक्शन (Tax Collection) के लक्ष्य को पार कर जाएगी. रेवेन्यू सेक्रेटरी तरुण बजाज ने यह उम्मीद जताई है. चालू वित्त वर्ष में अक्टूबर तक सरकार का डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन छह लाख करोड़ रुपये रहा है. वहीं वित्त वर्ष के दौरान प्रतिमाह औसत जीएसटी कलेक्शन (GST Collection) करीब 1.15 लाख करोड़ रुपये है.

बजाज ने कहा कि सरकार का टैक्स कलेक्शन चालू वित्त वर्ष के लिए बजट अनुमान से अधिक रहेगा. उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क कटौती और खाद्य तेल पर सीमा शुल्क में कमी से सरकारी खजाने पर चालू वित्त वर्ष में करीब 80,000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा. बजाज ने कहा कि रेवेन्यू डिपार्टमेंट दिसंबर के अग्रिम कर के आंकड़े सामने आने के बाद बजट अनुमान की तुलना में टैक्स कलेक्शन की गणना शुरू करेगा.

अक्टूबर तक टैक्स कलेक्शन 6 लाख करोड़
उन्होंने कहा, ”रिफंड के बाद भी अक्टूबर तक हमारा टैक्स कलेक्शन करीब छह लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. यह अच्छा दिख रहा है। उम्मीद है कि हम बजट अनुमान को पार कर लेंगो. हालांकि, हमने पेट्रोल, डीजल और खाद्य तेल पर डायरेक्ट टैक्स में काफी राहत दी है. यह लाभ करीब 75,000 से 80,000 करोड़ रुपये का है. इसके बावजूद मुझे उम्मीद है कि हम डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स दोनों में बजट अनुमान को पार करेंगे।’’

सरकार ने चालू वित्त वर्ष में टैक्स कलेक्शन 22.2 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया है. यह पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 9.5 फीसदी अधिक है. 2020-21 में 20.2 लाख करोड़ रुपये रहा था. कुल टैक्स कलेक्शन में प्रत का हिस्सा 11 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। इसमें 5.47 लाख करोड़ रुपये कॉरपोरेट कर और 5.61 लाख करोड़ रुपये का आयकर शामिल है.

दिसंबर में जीएसटी कलेक्शन में आएगी कमी
जीसटी के बारे में बजाज ने कहा कि नवंबर का कलेक्शन अच्छा रहा है, लेकिन दिसंबर का आंकड़ा थोड़ा कम रहेगा. मार्च तिमाही में जीएसटी कलेक्शन फिर बढ़ेगा. बजाज ने कहा, ‘‘जीएसटी कलेक्शन अच्छा है. अक्टूबर में हमने 1.30 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया. इस महीने भी दिवाली की वजह से हमारा आंकड़ा अच्छा रहेगा. जीएसटी कलेक्शन का ‘रन रेट’ 1.15 लाख करोड़ रुपये से नीचे नहीं जाएगा.

GST रेवेन्यू से 6.30 लाख करोड़ कमाई का लक्ष्य
चालू वित्त वर्ष में सीमा शुल्क संग्रह का लक्ष्य 1.36 लाख करोड़ रुपये और उत्पाद शुल्क कलेकशन का लक्ष्ष्य 3.35 लाख करोड़ रुपये है. इसके अलावा केंद्र का जीएसटी रेवेन्यू (मुआवजा सेस सहित) 6.30 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है.

.

.

Source link

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here