पीएम नरेंद्र मोदी ने की स्वदेशी दिवाली की अपील, चीन को हुआ 50 हजार करोड़ रुपये का नुकसान

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) देशवासियों से स्वदेशी वस्तुओं के उपयोग को बढ़ावा देने और लोकल वस्तुओं के लिए वोकल (Local for Vocal) होने की अपील करते रहते हैं. हाल में पीएम मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में दिवाली (Diwali 2021) पर स्वदेशी वस्तुओं को अपनाने और लोकल फॉर वोकल के नारे को दोहराया. फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) के एक अनुमान के मुताबिक, पीएम मोदी की अपील के बाद लोगों के स्वदेशी वस्तुओं (Indigenous Goods) की खरीदारी से चीन को हाल के दिनों में 50,000 करोड़ रुपये के कारोबार का नुकसान हुआ है.

स्वदेशी जागरण मंच से जुड़े अश्वनी महाजन का कहना है कि पीएम मोदी के स्‍थानीय वस्तुओं के इस्‍तेमाल को बढ़ावा देने की अपील के बाद बाजार में स्वदेशी वस्तुओं के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है. अब लोग सबसे पहले स्वदेशी सामान की मांग करते हैं. कई बार लोग विदेशी समान से थोड़ा महंगा होने के बावजूद स्वदेशी सामान ही खरीद रहे हैं. कैट से जुड़े प्रवीण खंडेलवाल का कहना है कि प्रमुख रिटेल सेक्टर जैसे एफएमसीजी, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, खिलौने, इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रिकल अप्लायंसेज, किचनवेयर, गिफ्ट आइटम, पर्सनल कंज्यूमेबल्स, कंफेक्शनरी आइटम, होम फर्निशिंग, फुटवियर, घड़ियां, घर की सजावट के सामान, मिट्टी के दीयों समेत दिवाली पूजा के सामान का व्यापारियों ने मांग के हिसाब से स्टॉक कर लिया है

चीन के कारोबारियों को ऐसे हुआ नुकसान
कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया का कहना है कि फेडरेशन की शोध शाखा कैट रिसर्च एंड ट्रेड डेवलपमेंट सोसाइटी की ओर से हाल में कई राज्यों के 20 शहरों में एक सर्वेक्षण करवाया गया. सर्वेक्षण में पता चला कि इस साल अभी तक भारतीय व्यापारियों या आयातकों की ओर से दिवाली के सामान, पटाखों या अन्य वस्तुओं का कोई ऑर्डर चीन को नहीं दिया गया है. इस साल दीपावली को पूरी तरह से हिंदुस्तानी दिवाली के रूप में मनाया जाएगा.

News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar
News Website in Jalandhar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here